सम और विषम संख्या | परिभाषा, अंतर | Best 1

सम और विषम संख्या – दोस्तों आज हम आपको सम संख्या और विषम संख्या की परिभाषा और अंतर बताएंगे। वैसे तो यह गणित के आसान टॉपिक में से एक है पर कभी कभार इसमें हम लोग confuse हो जाते हैं। इसलिए आसान भाषा में हम आपको समझा रहे हैं।

सम और विषम संख्या परिभाषा | Definition of Even and Odd number in Hindi

सम और विषम संख्या, सम और विषम संख्या की परिभाषा, सम और विषम संख्या में अंतर
सम और विषम संख्या

सम संख्या की परिभाषा | Definition of Even Number Hindi

ऐसी संख्याएं जिनमे 2 से भाग करने पर शेषफल शून्य आता है, सम संख्याएं कहलाती हैं।

जैसे- 2,4,6,8,10,12…..

विषम संख्या की परिभाषा | Definition of Odd number hindi

ऐसी संख्याएं जिनमें 2 से भाग करने पर शेषफल शून्य न आकर 1 आता है, विषम संख्याएं कहलाती हैं।

ये भी पढ़ें -  संख्याओं के प्रकार - संख्या पद्धति भाग 1

जैसे- 3,5,7,9,11….

सम और विषम संख्या में अंतर

सम संख्याएं वो संख्याएं हैं जिनमे 2 से भाग करने पर शेषफल शून्य आता है जबकि विषम संख्याएं वो संख्याएं हैं जिनमे 2 से भाग करने पर शेष शून्य न आकर 1 आता है।

सम संख्या का उदाहरण है -2,4,6,8,10…जबकि विषम संख्या का उदाहरण है- 3,5,7,9,11…

सम और विषम संख्या की जानकारी क्यों जरूरी है?

प्रायः बड़ी परीक्षाओं में सम और विषम संख्या से सीधे प्रश्न नही आते हैं परंतु गणित के विद्यार्थियों को सम और विषम संख्या की पूरी जानकारी होना आवश्यक है। क्योंकि कई बार संख्या ज्ञात करने वाले प्रश्नों में भी इनका ज़िक्र होता है और बड़े सवालों को हल करने के लिए बेसिक concept की ज़रूरत भी पड़ती है।

ये भी पढ़ें -  पाइथागोरस प्रमेय क्या है? परिभाषा, सूत्र, उदाहरण सहित | Pythagoras Theorem

तो दोस्तों ये था सम और विषम संख्या में अंतर व परिभाषा। उम्मीद है ये आपको आसानी से समझ आ गया होगा।

Leave a Comment